कैसे बनाया जाता है 1

ब्लॉग कैसे बनाया जाता है?

अगर आप ब्लॉगर बनना चाहते हैं तो, ये गलतियाँ ना करे।

“ब्लॉगर कैसे बना जाता है?” यह सवाल आज के समय में लगभग सभी लोग के सामने आती है। जो लोग इंटरनेट पर अपने विचारों को दुनिया के सामने अपने ब्लॉग के द्वारा प्रस्तुत करना चाहते हैं तथा अपने ब्लॉग से पैसा कमाना चाहते हैं। सबसे पहले मैं यह कहना चाहूंगा कि जब भी आप कोई नया ब्लॉग अपना स्टार्ट करने जा रहे हैं तो स्टार्ट करने से पहले इन बातों का जरूर ध्यान दें।

लॉगिंग करने के लिए सबसे पहले आपको किसी प्रकार की हुनर की जरूरत नहीं है। बल्कि आपको सबसे ज्यादा जरूरत है, एक जुनून की और यह जुनून ऐसा नहीं होना चाहिए कि एक दो महीने बाद ठंडा न पड़ जाए। अक्सर होता क्या है कि कुछ लोग दूसरे ब्लॉगर्स की कमाई को देखते हुए जोश में आकर ब्लॉग को स्टार्ट तो कर देते हैं लेकिन एक दो महीना बाद ब्लॉगर पर काम करना धीरे-धीरे कम कर देते हैं।

खुद की गलतियों से सिख लेना ही असली शिक्षा है।

अगर कोई शख्स अकेले ब्लॉगिंग करता है। तो अपनी कमियां को देखता है और अपने गलतियों को समझता है। लेकिन अक्सर यह होता है कि दो-तीन लोग जब मिलकर अगर किसी ब्लॉग को चलाते हैं। तो वह एक दूसरे को किसी न किसी वजह से दोष देना शुरु कर देते हैं। जिसकी वजह से उनके ब्लॉग की ग्रोथ रेट नीचे आने लगती है और आपस में काफी अनबन भी हो जाती है।

यहाँ पढ़े: Blogspot Blog Ko Puri Tarah Se Mobile Friendly Kaise Banaye?

इसलिए मैं आपसे यही कहना चाहूंगा कि जब भी आप अपना ब्लॉग स्टार्ट करिए तो कोशिश करिए कि अकेले स्टार्ट करें और दूसरों से थोड़ी बहुत हेल्प ले ताकि जान सके की ब्लॉक को कैसे हैंडल किया जाता है। उसके बाद थोड़ा बहुत आईडिया आने के बाद इंटरनेट पर तमाम ऐसी वेबसाइट्स और विडियोस हैं। जिनकी मदद से आप और अधिक सीख सकते हैं।

दूसरों से सतर्क रहिये।

अगर आप किसी व्यक्ति के साथ जुड़कर एक ही ब्लॉक पर काम करना चाहते हैं। तो आप को बहुत ही सतर्क होकर काम कर रहा होग। अक्सर कुछ लोग आपसे बड़ी-बड़ी बातें करके आपको अपने साथ काम करने को मनाना चाहेंगे। कुछ लोग यहां तक कि ऐसा भी कहते हैं कि दोस्त “यही मेरी जिंदगी है,यही मेरा सब कुछ है, यही मेरी रोजी रोटी है” और बाद में अपनी सारी गलतियों का दोष आप पर डाल देते हैं। इसलिए बेहतर होगा कि आप अपने ब्लॉग अकेले खुद चलाएं और ऐसे लोगो से बच कर रहे।

यहाँ पढें: Schema Markup | स्कीमा क्या हैं? WordPress में स्कीमा मार्कअप कैसे Add करें

काम में सीरियस रहिये और हर रोज़ ब्लॉग पोस्ट करते रहिये।

कैसे बनाया जाता है 2 1

सबसे बड़ी चीज ब्लॉगिंग में यह होती है कि आपको रेगुलरिटी बनानी पड़ती है। अगर आप अपने ब्लॉक पर रेगुलर पोस्ट नहीं करेंगे तो Google को लगेगा कि यह वेबसाइट पर रेगुलर अपडेट नहीं होता है। और वह आपके पेज के रैंकिंग को सर्च इंजन पर डाउन करता जाएगा। इसीलिए मैं यह कहना चाहूंगा कि आप अपना ब्लॉग शुरू से जैसा काम करते आ रहे हैं। वही regularity और पोस्ट करने की दर को बनाए रखिए और भगवान पर भरोसा रखिए। कुछ समय बाद आप की वेबसाइट एक अच्छे मुकाम पर पहुंच जाएगी। क्योंकि किसी का भी मेहनत का काम बेकार नहीं जाता। बस आपको एक सही दिशा की ओर अपनी मेहनत को लगाना है और पूरी ईमानदारी से काम करते जाना है।

मेरा पिछला ब्लॉग्गिंग अनुभव

दोस्तों मैं ब्लॉगिंग इस फील्ड में ज्यादा successful नहीं हो पाया इसके पीछे यह वजह है कि मैं स्टार्टअप में ही इंग्लिश में ब्लॉग स्टार्ट किया था। चुकि मेरा आर्टिकल लिखने का ढंग उतना सही नहीं था। इसलिए मैं उस पर रेगुलर पोस्ट अपडेट नहीं कर पाता था। इस लिए मैंने अपने सुविधा के अनुसार हिंदी में ब्लॉग स्टार्ट किया है। मैं ज्यादातर अब इसी ब्लॉग पर पोस्ट करता रहूंगा और इस ब्लॉक को मैं आगे एक नए प्लेटफार्म पर ले जाने की कोशिश करुंगा।

thescouts logo Anil kumar

नमस्कार दोस्तों,  सबसे पहले तो मै आपका स्वागत करता हूँ| मैं अनिल कुमार, ThesSouts.Org.In का Founder हूँ| मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है| हमारी हमेशा से यही कोशिश रहती है की जिस विषय पर हम बात करे उस विषय पर आपको पूरी जानकारी दे सके|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *