भाप लेने के फायदे और सही तरीका ? जानिए

आज हम जानेंगे की भाप लेने का सही तरीका क्या होता है और भाप लेने के फायदे क्या क्या है। बहुत से लोग तो इसके बारे में जानते ही नही जिससे इसका सही लाभ नही ले पाते है और जो जानते है उसमे से कुछ लोगो को भाप लेने का सही तरीका ही नही पता होता है।

सर्दी जुखाम में राहत – अगर आप को सर्दी जुखाम हो रखा है तो आप भाप लीजिए आप की सर्दी जुखाम ठीक हो जायेगा खासकर यह ज्यादा कारगर सर्दी के दिनों में ही होता है साथ ही साथ आप यह भी ध्यान दे की पानी हल्का गुनगुना पिए। जिससे आपका कफ जल्दी निकल जायेगा और आप ठीक हो जायेंगे।

अस्थमा में लाभप्रद- अस्थमा से पीड़ित व्यक्ति के लिए यह एक अच्छा उपाय होता है क्योकि हलकी भाप लेने पर श्वास नालिया अच्छे से खुल जाती है और साँस लेने की समस्या दूर हो जाती है।

यह भी पढ़े – रात का खाना खाने के तुरंत बाद क्यों नही सोना चाहिए ? जानिए

पिम्पल हटाये जल्दी से – पिम्पल जवा लोगो के लिए एक बहुत बड़ी समस्या होती है चाहे वह लड़की हो या लड़का क्योकि यह चेहरे की रंगत और रूप दोनों ही छीन लेते है ऐसे में अगर आप थोडा हल्का भाप रोजाना कुछ समय के लिए लेते है तो आपके चेहरे की रोम छिद्र अच्छी तरह खुले रहेंगे और डेड सेल्स भी ख़त्म हो जायेंगे जिससे पिम्पल की समस्या नही होगी इसके अलावा कही आपको फोड़ा हो रहा हो बड़ा सा और उसका मुह न बन रहा हो बहने के लिए तो वह हल्का भाप दे वह ठीक हो जायेगा।

चेहरे की झुर्रिया मिटाए – हल्का भाप लेने से त्वचा से गन्दगी दूर हो जाती है और नशे अच्छे से काम करने लगती है जिससे चेहरे की रंगत निखर जाती है और झुरिया भी काफी हद तक कम हो जाती है।

ब्लैक हेड्स होते है दूर – नाक पर होने वाले ब्लैक हेड्स को लेकर बहुत से लोग परशान होते है और तमाम तरह का उपाय करते है फिर भी आराम नही मिलता है लकिन भाप के लगातार कुछ दिनों तक 3 से 5 मिनट लेने पर यह एकदम से ही सही हो जाते है।

भाप लेने का सही तरीका – भाप लेने के लिए आप साफ पानी को उबाल ले और जब भाप निकलने लगे तो उसे गैस से उतार ले इसके बाद उसे एक ग्लास में आधा भरे इससे ज्यादा नही। गिलास के मुख पर कोई जाली दार कपड़ा लगाए और अब जब उसमे से हल्का सहने जैसा भाप निकले तो चेहरे के हर हिस्से पर लगाए।

ध्यान दे – भाप लेते समय बरते सावधानिया- ग्लास और त्वचा के बीच में उचित दुरी होनी चाहिए ,भाप को त्वचा पर लगाने से पहने अपने हाथो से भाप चेक कर ले की यह सहने योग्य है या नही ,अस्थमा में राहत के लिए भाप को नाक से ज्यादा दूर रखे और बहुत हल्की हलकी भाप को ही ले,इसके अलावा भाप को आखो के संपर्क में ज्यादा देर ना रखे क्योकि आखो की नशे ज्यादा नाजुक होती है।

Related blog posts