HomeTechnologyAbout GPS (Global Positioning System) in Hindi

About GPS (Global Positioning System) in Hindi

देखा जाए तो आज के समय में GPS का इस्तेमाल काफी आम बात हो गया है। एक समय था, जब GPS का इस्तेमाल सिर्फ सेना को सही लोकेशन की जानकारी देने के लिए इस्तेमाल किया जाता था। लेकिन आज के समय में GPS हर मोबाइल फोन में, लैपटॉप में और भी अन्य गैजेट्स में देखने को मिल जाते हैं।

जैसा की हम जानते हैं GPS सैटेलाइट के आधार पर काम करता है। GPS का पूरा नाम ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम है। यह एक सबसे विस्तृत नेविगेशन सिस्टम है। जो समय के साथ-साथ किसी भी व्यक्ति, वाहन या सामान का सही लोकेशन बताता है।

यहाँ पढ़े: वर्महोल (Wormhole) क्या है?

शायद आप नहीं जानते GPS को सबसे पहले यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका के सेना विभाग ने बनाया था। फिर बाद में इस का इस्तेमाल आम लोगों के लिए उपलब्ध करा दिया गया। जीपीएस के जरिए आज के समय में आप आसानी से पूरे दिन का मौसम के बारे में जान सकते हैं।

GPS डिवाइस रिसीवर के साथ काम करता है। मतलब जो भी डाटा हमें सेटेलाइट से मिलता है। वह जीपीएस रिसीवर डिवाइस और सेटेलाइट मिल उसकी गणना करते है।

GPS काम कैसे करता है?

आपका जीपीएस डिवाइस 3 से 4 सैटेलाइट से लोकेशन की जानकारी लेता है। जिसकी accuracy 10 से 100 मीटर के रेंज में हो सकती है। आज के समय में एंड्राइड डेवलपर GPS का इस्तेमाल कई Android एप्लीकेशन में करते हैं। जैसा कि हमने देखा है अक्सर हम अपने मोबाइल फोन में कोई सॉफ्टवेयर ओपन करते हैं। तो वह एंड्राइड एप्लीकेशन लोकेशन ऑन करने के लिए कहता है। इसका मतलब यह है कि वह एप्लीकेशन चाहता है कि आप अपना करंट लोकेशन उसके साथ शेयर करें।

जीपीएस लोकेशन कैसे पता करता है?

किसी भी जगह का लोकेशन पता करने के लिए कम से कम तीन सैटेलाइट की आवश्यकता होती है। जो 2D दो डायमेंशनल पोजीशन पता करती है। लेकिन अगर वही आप 3D में जाना चाहते हैं यानि की लंबाई चौड़ाई के साथ-साथ ऊंचाई और गहराई भी देखना चाहते हैं। तो उसके लिए कम से कम चार सैटेलाइट की आवश्यकता होती है। एक बार यह सारी जानकारियां सैटेलाइट को पता हो जाती है। तो सैटेलाइट आपके जीपीएस रिसीवर से कँनेट हो जाता है। और अंय कई चीजों की गणना करना वह शुरू कर देता है। जैसे आपकी गति, दूरी, आप एक जगह से दूसरी जगह जाने में आपको कितना समय लगेगा, व सारी घटना जो आपके लिए काफी जरूरी होती है।

अवश्य पढ़े: वेब डिजाइनिंग क्या है?

आशा करता हूं यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी। अगर आपको GPS के बारे में जानकारी अच्छी लगे। तो कृपया इसको शेयर करिए। अगर आपके मन में किसी भी प्रकार का प्रश्न है। तो नीचे कमेंट बॉक्स में अपने question को लिखिए। धन्यवाद!

अनिल कुमार
अनिल कुमार
नमस्कार दोस्तों,  सबसे पहले तो मै आपका स्वागत करता हूँ| मैं अनिल कुमार, thescouts.org.in का Founder हूँ| मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है| हमारी हमेशा से यही कोशिश रहती है की जिस विषय पर हम बात करे उस विषय पर आपको पूरी जानकारी दे सके|

Related Articles

Mobile से जाने Traffic – How do I see Real Time Traffic on Map

दोस्तों इस लेख को पूरी तरह से पढ़ने के बाद आप गूगल मैप को पूरी तरह से समझ पाएंगे की इसका इस्तेमाल करके हम...

OS Operating System क्या है ? OS की सम्पूर्ण जानकारी

नमस्कार दोस्तों,कैसे हैं आप सब मुझे उम्मीद है आप ठीक होंगे तो आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे की operating system(OS) क्या होता है और यह क्या...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

CDN kya hai और इसके फायदे क्या है ?

जब आप एक वेबसाइट बनाते हैं तो एक Hosting...

ब्लैक नाइट सैटेलाइट(Black Knight Satellite in Hindi)

अगर देखा जाए तो इस दुनिया में न जाने...

Internet क्या है | और इसका मालिक कौन है?

Internet आज के समय मे बहुत ही Important चीज़...

जानिए: रात का खाना खाने के तुरंत बाद क्यों नही सोना चाहिए?

दोस्तों आप ने अक्सर डॉक्टर को या आम आदमी...

Google AdSense क्या है | और कैसे काम करता है?

नमस्कार दोस्तों, आप सभी पाठकों का मेरे इस साइट...

Blogspot Blog Ko Puri Tarah Se Mobile Friendly Kaise Banaye?

अभी के Time में लोग ज्यादा तर Mobile से...

हवाई जहाज के बारे में रोचक जानकारियां (Facts about Plane in Hindi)

आप पढ़ रहे हैं हवाई जहाज के बारे में...